जानें कैसे करता है Meditation पढाई में मदद

Know how Meditation improves memory and learning ability.

0

अक्सर बहुत से Students की यह शिकायत रहती है कि वे मेहनत तो बहुत करते हैं परन्तु परीक्षा के वक्त उन्हें पढ़ी हुई चीजें याद नहीं रहती या वो ठीक से अपने उत्तर को एक्सप्लेन नहीं कर पाते। इसका मुख्य कारण एकाग्रता की कमी है। अधिकतर स्टूडेंट्स कुशाग्र बुद्धि होने के बावजूद पढाई में, खासतौर पर Competitive Exams में पिछड़ जाते हैं। ऐसे स्टूडेंट्स के लिए Meditation यानि ध्यान बेहद लाभदायक साबित हो सकता है, जानें मैडिटेशन से सम्बंधित कुछ ऐसे तथ्य जो बदल सकते हैं आपके पढने, समझने और याद करने का तरीका: benefits of meditation in Hindi essay, how to improve memory tips 

 Benefits of Meditation in Education

  • पढाई करने के दौरान हमारा दिमाग कई दिशाओं में घूम रहा होता है, इसलिए हम जो पढ़ते हैं उसे आसानी से समझ नहीं पाते। रोजाना प्राणायाम के साथ मैडिटेशन का अभ्यास एकाग्रता को बढ़ाता है और याददाश्त को तेज करता है।
  • जिन स्टूडेंट्स को परीक्षा के दौरान घबराहट होती है उनके लिए भी मैडिटेशन बहुत फायदेमंद है। रोजाना ध्यान करने से मस्तिष्क और शरीर के बीच में कम्युनिकेशन का तालमेल दुरुस्त होता है। नर्वस सिस्टम शांत रहने, हृदय गति और ब्लड प्रेशर संतुलित रहने से जटिल परिस्थितियों को आसानी से हैंडल करने की क्षमता आती है।
  • योग ध्यान का ही एक अंग है। एक पुरानी कहावत है कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क का निर्माण होता है। इसलिए ध्यान के साथ-साथ योग का अभ्यास पहले शरीर और फिर मस्तिष्क को तंदरुस्त बनाने में मदद करता है।
  • ब्रहम मुहूर्त यानि सुबह 2 से 5 के बीच में किया गया मैडिटेशन सबसे बेहतर माना जाता है। वैज्ञानिक शोध के अनुसार सुबह के वक्त पर्यावरण में ऑक्सीजन की मात्रा अधिक होती है। ध्यान करते समय यह ऑक्सीजन मस्तिष्क में पहुंचकर इसे एक्टिव बनाती है।
  • बहुत से स्टूडेंट्स अपने हेक्टिक स्टडी schedule के कारण रात को ठीक से सो नहीं पाते हैं। परीक्षा के दिनों में अक्सर यह देखा जाता है कि नींद पूरी न होने के कारण एग्जाम देते वक्त विद्यार्थी सब सवालों का सही जवाब पता होने के बावजूद ठीक से question paper attempt नहीं कर पाते। मैडिटेशन करने से आलस्य दूर होता है और कम नींद में भी मस्तिष्क ठीक से खुद को रिपेयर कर लेता है। मानसिक थकान न होने से पूरा दिन एनर्जी बनी रहती है और हर टास्क को विद्यार्थी ठीक ढंग से निभा पाता है।

Also read: UPSC टॉपर टीना डाबी देंगी Tips और Study Material

LEAVE A REPLY